मुंबई हिट-एंड-रन के आरोपी ने गलत ID दिखाकर शराब पी:उम्र 24 की जगह 27 साल बताई; घटना के बाद बाल-दाढ़ी कटवाकर पहचान छिपाई

मुंबई के वर्ली हिट-एंड-रन केस में हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। जुहू के जिस पब में शिवसेना नेता राजेश शाह के बेटे मिहिर शाह ने एक्सीडेंट से पहले शराब पी थी, उसका दावा है कि वह गलत ID दिखाकर शराब पीने आया था।

सूत्रों ने अनुसार, पब मैनेजमेंट ने आरोप लगाया कि मिहिर शाह ने उन्हें जो पहचान पत्र दिखाया, जिसमें उसकी उम्र 27 साल थी। उसके साथ तीन दोस्त भी आए थे, जिनकी उम्र 30 साल से अधिक है। पुलिस का दावा है कि ऑफिशियल रिकॉर्ड के अनुसार मिहिर 24 साल का है, जबकि शराब पीने की न्यूनतम कानूनी उम्र 25 वर्ष है।

एक्साइज अधिकारियों के सूत्रों ने बताया पब के बिल से पता चला है कि मिहिर शाह और उसके दो दोस्तों ने उस दिन बार में व्हिस्की के 12 बड़े पैग ऑर्डर किए थे। यानी एक युवक ने लगभग चार पैग पिए थे। शराब की इतनी मात्रा किसी को आठ घंटे तक नशे में रख सकती है।

मिहिर और उसके दोस्त शनिवार-रविवार को देर रात 1.30 बजे पब से निकले। रविवार (7 जुलाई) को सुबह करीब 5:30 बजे मिहिर शाह ने BMW कार से एक कपल को टक्कर मार दी। इसमें 45 साल की महिला कावेरी नखवा की मौत हो गई।

पुलिस का दावा- मिहिर को पता था महिला टायर में फंसी है, फिर भी घसीटा
आरोपी ने अपनी कार से महिला को करीब 1.5 किलोमीटर तक घसीटा था। मिहिर के साथ उसका ड्राइवर भी कार में था। वह ड्राइवर की बगल वाली सीट पर बैठा था। मुंबई पुलिस ने मिहिर शाह को मंगलवार (9 जुलाई) को हिट-एंड-रन केस के तीसरे दिन गिरफ्तार किया था। उसे 16 जुलाई तक पुलिस कस्टडी में भेजा गया है।

पुलिस ने बुधवार (10 जुलाई) को बताया कि मिहिर ने कबूला है कि हादसे के वक्त कार वही चला रहा था। कपल की स्कूटी को टक्कर मारने के बाद उसे पता था कि महिला कार की एक टायर में फंसी है। इसके बावजूद उसने कार नहीं रोकी और महिला को घसीट दिया।

बाल-दाढ़ी कटवाकर पहचान छिपाने की कोशिश की
अधिकारी के अनुसार, बिंदु माधव ठाकरे चौक पार करने के बाद अन्य गाड़ी चालकों ने मिहिर शाह से कार रोकने के लिए कहा, लेकिन उसने उनकी बात नहीं सुनी और गाड़ी चलाना जारी रखा। वहां से भागने के बाद मिहिर शाह ने अपनी पहचान छिपाने के लिए बाल और दाढ़ी कटवा ली। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि क्या किसी ने हुलिया बदलने में उसकी मदद की थी।

आरोपी का दावा है कि उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस है, लेकिन अब तक लाइसेंस बरामद नहीं हुआ है। पुलिस ने बताया कि मिहिर शाह जांच में सहयोग नहीं कर रहा है। उसने यह भी नहीं बताया कि बार से निकलने के बाद उसने गाड़ी कहां से चलाना शुरू किया और कब तक चलाई।

एक्सीडेंट के बाद आरोपी ने गर्लफ्रेंड को 40 फोन किए
सूत्रों ने बताया कि एक्सीडेंट के बाद मिहिर ने सबसे पहले अपने पिता को फोन किया था। उन्होंने ही उसे भागने के लिए कहा था। इसके बाद मिहिर ने BMW कार और ड्राइवर को बांद्रा के कला नगर के पास छोड़ा। पकड़े न जाने के लिए उसने कार की नंबर प्लेट हटाई।

कार छोड़ने के बाद वह रिक्शा लेकर गोरेगांव में अपनी गर्लफ्रेंड के घर गया। एक्सीडेंट से गर्लफ्रेंड के घर पहुंचने तक मिहिर ने 40 बार गर्लफ्रेंड से फोन पर बात की। महिरि गर्लफ्रेंड के घर 2 घंटे रुका। इस दौरान गर्लफ्रेंड ने मिहिर की बहन को फोन पर घटना की जानकारी दी।

इसके बाद मिहिर की बहन उसकी गर्लफ्रेंड के घर आई और भाई को लेकर बोरीवली स्थित अपने घर चली गई। वहां से राजेश शाह की पत्नी मीना और दोनों बेटियां (पूजा और किंजल) मिहिर शाह और उसके दोस्त अवदीप को लेकर मुंबई से करीब 70 किमी दूर शाहपुर में एक रिजॉर्ट के लिए रवाना हुए। पुलिस ने कहा है कि मिहिर की गर्लफ्रेंड से भी पूछताछ हो सकती है।

पुलिस ने दोस्त का मोबाइल ट्रैक कर मिहिर को पकड़ा
इधर, पुलिस मिहिर शाह, उसके परिवार, गर्लफ्रेंड और करीबी दोस्तों के फोन लगातार ट्रैक कर रही थी। हालांकि, सबके फोन स्विच ऑफ थे। इसी बीच सोमवार (8 जुलाई) की रात मिहिर अपने दोस्त के साथ विरार आया। विरार में उसके दोस्त का घर है।

मंगलवार (9 जुलाई) की सुबह उसके दोस्त ने 15 मिनट के लिए अपना फोन चालू किया। इसी बीच पुलिस को उसकी लोकेशन मिल गई और मिहिर शाह गिरफ्तार हो गया। इसके बाद पुलिस ने रिजॉर्ट से उसकी मां और बहनों को भी हिरासत में लिया।

पुलिस ने बताया कि राजेश शाह का परिवार फैमिली कार सहित दो गाड़ियों में रिजॉर्ट गए थे। सबने अपने मोबाइल फोन बंद कर दिए थे और उनके घर पर भी ताला लगा हुआ था। मिहिर को पकड़ने के लिए मुंबई पुलिस ने 11 टीमें बनाई थीं। क्राइम ब्रांच को भी शामिल किया गया था। उसके खिलाफ एक लुक आउट सर्कुलर (LOC) भी जारी किया गया था।

राजेश शाह कार उठवाने की प्लानिंग में थे, तभी पेट्रोलिंग टीम पहुंची पुलिस सूत्रों के मुताबिक, मिहिर शाह के के भागने के बाद उसके पिता राजेश शाह बांद्रा के कला नगर गए, जहां मिहिर ने ड्राइवर राजऋषि राजेंद्र सिंह बीदावत को कार के साथ छोड़ा था। राजेश शाह BMW उठवाने की प्लानिंग में थे। इसी बीच मृत महिला कावेरी नखवा के पति की सूचना पर पेट्रोलिंग टीम मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने तुरंत कार जब्त की और राजेश शाह के साथ ड्राइवर बिदावत को गिरफ्तार कर थाने ले आई। दोनों को 8 जुलाई को शिवड़ी कोर्ट में पेश किया गया था। राजेश ने कोर्ट में जमानत याचिका लगाई थी, जिस पर कोर्ट ने उसे 15 हजार रुपए के बॉन्ड पर जमानत दे दी थी। वहीं, कोर्ट ने ड्राइवर बीदावत की पुलिस कस्टडी 11 जुलाई तक बढ़ा दी है।

इधर, CM एकनाथ शिंदे के आदेश के बाद बुधवार (10 जुलाई) को शिवसेना ने राजेश शाह को पालघर में पार्टी के डिप्टी लीडर पद से भी हटा दिया। हालांकि, शाह अभी भी शिवसेना के सदस्य बने हुए हैं।

मछली खरीदकर लौट रहे कपल को टक्कर मारी
मिहिर शाह ने जिस कपल को टक्कर मारी, वे मछुआरे समुदाय के हैं। रविवार (7 जुलाई) को वर्ली के कोलीवाड़ा इलाके में रहने वाले प्रदीप नखवा अपनी पत्नी कावेरी नखवा के साथ रोज की तरह ससून डॉक से मछली खरीदकर वापस लौट रहे थे।

इसी दौरान अटरिया मॉल के पास तेज रफ्तार BMW ने उन्हें पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि स्कूटी पलट गई और दोनों पति-पत्नी कार के बोनट पर गिर गए। पति खुद को बचाने की कोशिश में बोनट से तुरंत कूद गया, लेकिन पत्नी उठ नहीं सकी।

भागने की हड़बड़ी में आरोपी ने महिला को कुचल दिया और कार से घसीटता हुआ चला गया। इसके बाद आरोपी मिहिर और उसका ड्राइवर कार लेकर भाग गए। घायल महिला को मुंबई सेंट्रल स्थित नायर अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।