Delhi Budget 2021-2022: 70 हजार करोड़ का बजट पेश कर सकती है दिल्ली सरकार

Delhi Budget 2021-2022: अगले सप्ताह की शुरुआत सोमवार (आठ मार्च) से शुरू हो रहे दिल्ली विधानसभा के बजट सत्र में पेश होने वाला बजट इस बार देशभक्ति के रंग में रंगा नजर आएगा। बजट में देशभक्ति को बढ़ावा देने के लिए कई प्रविधान होंगे। नौ मार्च को वित्तमंत्री और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया विधानसभा में बजट पेश करेंगे। इस बार का बजट 70 हजार करोड़ तक पहुंचने की उम्मीद है, जो वर्तमान वित्त वर्ष के बजट से पांच हजार करोड़ रुपये ज्यादा हो सकता है। इस बजट में भी शिक्षा और स्वास्थ्य को सरकार पहले की तरह प्राथमिकता पर रखेगी।

15 अगस्त 2022 को देश की आजादी के 75 साल पूरे हो जाएंगे। इसके मद्देनजर इस बजट में ऐसी घोषणाएं की जाएंगी, जिससे आने वाले दिनों में राजधानी में उत्सव जैसा माहौल रहे। योजना के अनुसार, सरकार आजादी के 75 वर्ष पूरे होने से ठीक 75 सप्ताह पहले से पूरी दिल्ली में अभूतपूर्व तरीके से आन-बान- शान के साथ जश्न मनाएगी। देशभक्ति से ओतप्रोत आयोजनों की श्रृंखला में दिल्लीभर में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 12 मार्च को कनाट प्लेस से ऐसे ही उत्सवी कार्यक्रम की शुरुआत होगी। इसमें भारत की आजादी के 100 साल की परिकल्पना भी प्रस्तुत की जाएगी।

कोरोना का असर दिखेगा दिल्ली के बजट पर

सूत्रों के मुताबिक इस बजट सत्र में पिछले साल के रुके हुए कामों को प्राथमिकता से पूरा करने का प्रण लेने के अलावा कई नई घोषणाएं भी की जाएंगी। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार दिल्ली सरकार के राजस्व पर भी काफी असर पड़ा है। कयास लगाए जा रहे थे कि इस बार बजट काफी कम राशि वाला होगा। मगर सरकार राजस्व संग्रह का उचित प्रबंधन की रणनीति तैयार बजट की राशि को कम करने की जगह बढ़ाने जा रही है। बता दें कि पिछले साल 650000 करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया था।