Rajya Sabha Election 2020: करोड़ों के मालिक हैं भाजपा के उम्मीदवार, हरदीप पुरी के पास स्विटजरलैंड में फ्लैट

 उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की दस सीटों चुनाव के लिए नामांकन के अंतिम दिन मंगलवार को केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी समेत भारतीय जनता पार्टी के सभी आठ उम्मीदवारों ने भी पर्चा भरा। राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र के साथ दाखिल किये गए शपथपत्र के अनुसार भाजपा के उम्मीदवार करोड़ों रुपये की संपत्ति के मालिक हैं। प्रत्याशियों के शपथ पत्र के अनुसार भाजपा उम्मीदवार व केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी करोड़ों रुपये की संपत्ति के मालिक हैं। उनके पास 1,44,48,836 रुपये की चल संपत्ति है।

हरदीप पुरी के पांच बैंक खाते में ही करीब 42 लाख रुपये हैं। 35 लाख रुपये की एफडी व साढ़े छह लाख रुपये पीपीएफ खाते में हैं। दिल्ली व गुरुग्राम में दो फ्लैट हैं, जिनकी कीमत 16 करोड़ रुपये है। उनकी पत्नी के नाम ग्रेटर नोएडा के साथ ही स्विटजरलैंड में एक फ्लैट है। ग्रेटर नोएडा वाले फ्लैट की कीमत 2.75 करोड़ रुपये है जबकि स्विटरजरलैंड वाले फ्लैट की कीमत 1.6 मिलियन स्विस फ्रैंक है।

नीरज बे-कार, पत्नी के पास कैमरी : राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन करने वाले भाजपा उम्मीदवार और पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के पुत्र नीरज शेखर भले ही बिना कार वाले हों लेकिन उनकी पत्नी सुषमा शेखर 35 लाख रुपये की कीमत वाली टोयोटा की सेडान कैमरी की मालकिन हैं। और हों भी क्यों न, सालाना आमदनी और चल संपत्ति के मामले में वह नीरज से बीस हैं। शपथपत्र के अनुसार वर्ष 2014-15 में नीरज की कुल आय 3,32,240 रुपये थी जो 2018-19 में बढ़कर 14,28,645 रुपये हो गई। वहीं 2014-15 में उनकी पत्नी सुषमा की कुल आय 26,76,540 रुपये थी जो 2018-19 में घटकर 20,75,918 रुपये हो गई। नीरज की पत्नी के पास 130 तोला सोना है जिसकी कीमत 68.18 लाख रुपये है। नीरज की कुल चल संपत्ति का मूल्य 1.26 करोड़ रुपये है जबकि उनकी पत्नी के पास 3.03 करोड़ रुपये की चल संपत्ति है। वहीं अचल संपत्ति के मामले में नीरज का पलड़ा भारी है। वह कुल 2.505 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति के मालिक हैं तो सुषमा की चल संपत्ति का मूल्य 1.8 करोड़ रुपये है।
चार साल में छह गुना से ज्यादा बढ़ी अरुण सिंह की आमदनी : राज्यसभा चुनाव के लिए मंगलवार को अपनी उम्मीदवारी दर्ज कराने वाले भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह की सालाना आय चार वर्षों में छह गुना से ज्यादा बढ़ी है। राज्यसभा चुनाव के नामांकन प्रपत्र के साथ दाखिल किये गए शपथपत्र के अनुसार वित्तीय वर्ष 2015-16 में अरुण के इन्कम टैक्स रिटर्न के मुताबिक उनकी कुल आमदनी 4,07,139 रुपये थी जो 2019-20 में बढ़कर 26,52,120 रुपये हो गई। वहीं 2019-20 में उनकी पत्नी मीनाक्षी सिंह की वार्षिक आय 4,08,822 रुपये थी। 55 वर्षीय अरुण के पास 60 हजार रूपये का रिवॉल्वर है। साथ ही उनके पास कुल 1.18 करोड़ रुपये तथा उनकी पत्नी के पास 96.44 लाख रुपये की चल संपत्ति है। वहीं, अरुण के पास जहां कुल 2.95 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है, वहीं पत्नी मीनाक्षी 5.56 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति की स्वामिनी हैं।
शस्त्रों के भी शौकीन है करोड़पति हरद्वार दुबे : राज्यसभा के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने वाले पूर्व मंत्री हरद्वार दुबे ने शपथपत्र में अपनी व पत्नी की कुल संपत्ति 20,08,87,000 रुपये दर्शायी है। बलिया के मूल निवासी अब आगरा में बसे है और गैस एजेंसी के मालिक भी है। दुबे पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं है लेकिन लाइसेंसी शस्त्र के रूप में एक दोनाली बंदूक व एक राइफल अपने पास रखते है। उनके पास एक फार्चुनर गाड़ी व एक छोटा ट्रक भी है। व्यापार के अलावा दुबे एमएलए व लोकतंत्र सेनानी की पेंशन भी पाते है। 70 वर्षीय दुबे ने अपने सौ ग्राम सोना तथा उनकी पत्नी के पास 500 ग्राम सोना और पांच किलोग्राम चांदी होना बताया गया है। वर्ष 1973 में आगरा विश्वविद्यालय से एलएलबी की डिग्री हासिल करने वाले हरद्वार दुबे की पत्नी सेवानिवृत शिक्षिका है।
करोड़ों की संपत्ति के मालिक है बीएल वर्मा : भाजपा प्रत्याशी बीएल वर्मा का मूल नाम बनवारी लाल वर्मा है। उझानी बदायूं के निवासी 59 वर्षीय वर्मा ने शपथपत्र अपनी व पत्नी की कुल संपत्ति 7,71,04,588 रुपये दर्शायी है। पत्नी शांति देवी व उनके पास 42 लाख रुपये मूल्य के जेवरात भी मौजूद है। दो कार जाइलो व स्विप्ट डिजायर के स्वामी बीएलवर्मा को शस्त्र रखने का भी शौक है। उनके पास एक लाइसेंसी राइफल, एक दोनाली बंदुक व एक रिवाल्वर मौजूद हैं। खेती को आजीविका जरिया बनाने वाले वर्मा संपूर्णानंद विश्वविद्यालय से आचार्य उपाधि प्राप्त किए हुए है।
कृषि से आजीविका अर्जन करती है गीता शाक्य : भाजपा ने पूर्व प्रदेश मंत्री गीता शाक्य उर्फ चंद्रप्रभा को भी राज्यसभा प्रत्याशी बनाया है। बिधुना औरेया की निवासी गीता ने अपने पति मुकुट सिंह के साथ कृषि को अपना आजीविका जरिया बनाए है। 51 वर्षीया गीता के पास दो गाड़ियां जाइलो व स्कार्पियों है। वर्ष 2002 में कानपुर विश्वविद्यालय से एमए डिग्रीधारी गीता के खिलाफ न कोई मुकदमा दर्ज है और न ही उनके पास कोई लाइसेंसी शस्त्र है। शपथ पत्र में उन्होंने अपनी कुल संपत्ति 77,97,511 रुपये दर्शायी है।
पूर्व डीजीपी बृजलाल के पास हैं दो असलहे और 20 ग्राम सोना : राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव में भाजपा उम्मीदवार व पूर्व डीजीपी बृजलाल के पास दो असलहे हैं। बृजलाल ने अपनी चल-अचल संपत्ति को लेकर दिए गए शपथपत्र में कहा है कि उनके पास एक पिस्टल व एक रायफल है। वह एक हाण्डा अमेज व एक इनोवा के मालिक हैं। उन्होंने बताया कि उनकी कुल चल संपत्ति 1.63 करोड़ रुपये की है, जिसमें 20 ग्राम सोना, पीपीएफ खाते में 1668217 रुपये व अन्य बैंक खातों में जमा रकम भी शामिल है। उनके 4800 वर्ग फीट व 3200 वर्ग फीट के दो आवासीय भवन भी हैं। उनकी अचल संपत्ति 4.20 करोड़ की है।
निर्दलीय प्रकाश बजाज के सभी प्रस्तावक सपाई : वाराणसी निवासी प्रकाश बजाज ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर भले ही राज्यसभा के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया है परंतु उनके सभी प्रस्तावक समाजवादी पार्टी के विधायक है। 38 वर्षीय प्रकाश एलएलएम व सीएस डिग्रीधारक है और उनकी पत्नी भी वकील है। उनके खिलाफ न कोई मुकदमा दर्ज है और न कोई शस्त्र लाइसेंस। अहम बात यह है कि उनके नाम कोई वाहन भी नहीं है। अलबत्ता करीब 14 लाख रुपये कीमत के जेवरात उनके पास है। शपथ पत्र में उन्होंने अपने पास 2.76 लाख नकदी दर्शायी है। उनके नाम पर कृषि भूमि नही परंतु जवाहर कालोनी में 1400 वर्ग फीट क्षेत्र में बना मकान है और 44 लाख रुपये का हाउस लोन भी है।