Oxygen Crisis: जानिए क्यों हाइकोर्ट ने कहा पूरा शहर तनाव में है, लोग मर रहे हैं, समस्याएं सुनकर हम थक गए हैं

बार-बार दिल्ली को आवंटित ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश का कोई परिणाम नहीं निकलने पर शुक्रवार को दिल्ली हाई कोई व्यथित नजर आया। केंद्र सरकार से कोई स्पष्ट जवाब नहीं मिलने पर न्यायमूर्ति विपिन सांघी व न्यामयूर्ति रेखा पल्ली की पीठ ने कहा कि पूरे शहर को तनावग्रस्त बना दिया गया है। हर दिन सैकड़ों की संख्या में लोग मर रहे हैं। अस्पताल और नर्सिंग होम की ऑक्सीजन की कमी की समस्या सुन-सुनकर हम थक गए हैं।

शीर्ष अदालत के लंबित फैसले को देखते हुए सोमवार तक के लिए स्थगित की सुनवाई

पीठ ने यह टिप्पणी तब की जब सालिसिटर तुषार मेहता ने आवंटित ऑक्सीजन के संबंध में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी। उन्होंने पीठ को बताया कि ऑक्सीजन आवंटन के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने हमें कुछ सुझाव दिए हैं और हम इस पर सहमत हैं। उन्होंने कहा कि शीर्ष अदालत ने सुझाव समस्या को हल करने के संबंध में दिया है। पीठ ने कहा कि शीर्ष अदालत का आदेश आने दीजिए हम शनिवार को सुनवाई करेंगे। इस पर तुषार मेहता ने कहा कि यह आदेश में नहीं होगा क्योंकि ये सुझाव को लेकर हमारा जवाब सद्भाव में दिया गया है।

सुनवाई सोमवार तक के लिए स्थगित

इसके जवाब में पीठ ने कहा कि अगर आप कुछ कर रहे हैं तो हमें ये पता होना चाहिए। तुषार मेहता ने कहा कि आक्सीजन के मामले में सुनवाई सोमवार को रखी जाए। इस पर पीठ ने सुनवाई सोमवार तक के लिए स्थगित करते हुए कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि इस दौरान आक्सीजन की मांग ज्यादा नहीं बढ़ेगी। सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार के स्टैंडिंग काउंसल राहुल मेहरा ने कहा कि हमें लगता है कि शीर्ष अदालत के सुझाव पर केंद्र सरकार जरूर कुछ करेगी और आक्सीजन आपूर्ति की समस्या जल्द कम होगी।