Weather ALERT! दिल्ली-एनसीआर में दिन में रात-सा नजारा, कई इलाकों में बारिश; गुरुग्राम में भी गिरे ओले

तेज धूप और गर्मी के बीच बृहस्पतिवार दोपहर में मौसम ने एक बार फिर अपना मिजाज बदल लिया है। दिल्ली-एनसीआर के कुछ इलाकों में तेज और कई इलाकों में तेज बारिश भी हुई। पश्चिमी दिल्ली के कुछ इलाकों में बारिश के बीच ओले भी गिरे हैं। उधर, अन्य कई इलाकों में तेज हवा के साथ हुई बारिश के कारण तापमान में गिरावट हुई है, जिससे मौसम सुहावना हो गया है। दिल्ली-एनसीआर में बादल छाए हुए हैं और रात तक कुछ और इलाकों में भी बारिश हो सकती है। कुछ जगहों पर बादल के चलते दिन में ही रात का नजारा देखने को मिला।

पश्चिमी दिल्ली और गुरुग्राम में गिरे ओले

जागरण संवाददाता से मिली जानकारी के मुताबिक, बृहस्पतिवार दोपहर बाद दिल्ली-एनसीआर में मौसम का मिजाज पूरी तरह बदल गया है। तेज धूलभरी हवा चल रही है। गुरुग्राम, फरीदाबाद, ग्रेटर नोएडा समेत एनसीआर के ज्यादातर इलाकों मे घने बादल छाए हुए हैं। वहीं, गुरुग्राम के फुर्रुखनगर में तेज आंधी के बीच बारिश हुई और ओले भी गिरे। पश्चिमी दिल्ली में भी हल्की बारिश के साथ ओले गिरे हैं।

बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में बृहस्पतिवार सुबह से मौसम सुहाना बना हुआ है। तीखी धूप और गर्मी बेहद कम है तो ठंडी हवाएं दिल्ली-एनसीआर के लोगों को राहत दे रही हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के असर से बुधवार से ही उत्तर भारत के विभिन्न हिस्सों में माैसम बदलना शुरू हो गया था और बृहस्पतिवार सुबह से ठंडी हवाएं चल रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ जम्मू और कश्मीर क्षेत्र पर है और चक्रवाती हवाओं केे दबाव वाला एक क्षेत्र पश्चिमी राजस्थान और उससे सटे पाकिस्तान क्षेत्र के ऊपर बना हुआ है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, यही मौसमी चक्र बृहस्पतिवार और शुक्रवार के बीच हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों में पूर्व की ओर बढ़ रहा है, जिससे गरज के साथ बारिश हो सकती है। पंजाब और हरियाणा की तलहटी को मौसम की इस गतिविधि का बड़ा हिस्सा मिलेगा और पंजाब के दोआबा और मालवा क्षेत्र के मैदानी इलाकों में इन तीन दिनों के दौरान तीव्र मौसम का सामना करना पड़ेगा।

वहीं, इस पूरे सप्ताह दिल्ली का अधिकतम तापमान 41 डिग्री और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री रहने के आसार हैं। कुलमिलाकर राहत मिलती रहेगी। हालांकि, हफ्ते के अंत में भी बारिश की पूरी संभावना व्यक्त की गई है। दिल्ली मौसम विभाग द्वारा जारी की गई जानकारी के अनुसार, 7 से 10 मई तक मौसम ठीक रहेगा,लेकिन, 11 और 12 मई को बारिश के साथ तेज हवाएं चलने की काफी संभावनाएं हैं।

इन इलाकों में हो सकती है बारिश

  • दिल्ली  (Delhi)
  • नारनौल (Narnaul)
  • नूंह (Nuh)
  • सोहना (Sohna)
  • औरंगाबाद (Aurangabad)
  • पलवल (Palwal)
  • कोसली (Kosli)
  • भिवाड़ी (Bhiwadi)
  • रेवाड़ी (Rewari)
  • मानेसर (Manesar)
  • गुरुग्राम (Gurugram)
  • फर्रुखनगर (Farukhnagar)
  • होडल (Hodal)
  • महेंद्रगढ़ (Mahendergarh)
  • बावल (Bawal)
  • फरीदाबाद (Faridabad)

उत्तर भारत सहित देश के अन्य हिस्सों में भी मौसम का मिजाज बदल गया है। उत्तराखंड, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, कोस्टल ओडिशा, केरल, कोस्टल और दक्षिण कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश के साथ 12 स्थानों पर तेज वर्षा होने की संभावना है। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और तटीय आंध्र प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार हैं। वहीं, मिजोरम, त्रिपुरा, झारखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, आंतरिक कर्नाटक, मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, आंतरिक तमिलनाडु, लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश संभव है। इस बीच राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी के साथ बारिश हो सकती है।

मौसम में बदलाव से एनसीआर की हवा में भी हुआ सुधार

मौसम में बदलाव और फसली अवशेष जलाए जाने की घटनाएं कम होने की वजह से दिल्ली एनसीआर की वायु गुणवत्ता में बुधवार को सुधार देखने को मिला। गाजियाबाद को छोड़कर एनसीआर के सभी बड़े शहरों में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्युआइ) मध्यम श्रेणी में रहा। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की तरफ से जारी एयर क्वालिटी इंडेक्स के अनुसार बुधवार को दिल्ली का एक्युआइ 175 दर्ज किया गया। एनसीआर के शहरों में फरीदाबाद का 198, गाजियाबाद का 207, ग्रेटर नोएडा का 178, गुरुग्राम का 144 और नोएडा का एयर इंडेक्स 171 दर्ज हुआ। सफर इंडिया के मुताबिक फसली अवशेष जलाने की जो घटनाएं 15 सौ तक पहुंच गई थी, जो बुधवार को घटकर एक हजार रह गई। इसके अलावा मौसम में बदलाव से हवा की रफ्तार भी बढ़ी है और कहीं कहीं बारिश भी हुई है। इन सभी वजहों से वायु गुणवत्ता में सुधार हुआ है। अगले दो तीन दिन में एयर क्वालिटी इंडेक्स में हुआ यह सुधार बरकरार रहने की संभावना है।