Tiktok ने अपने भारतीय बिजनेस को बंद करने की घोषणा की, कर्मचारियों की छंटनी कर रही है कंपनी

चीन की सोशल मीडिया कंपनी Bytedance ने अपने भारतीय कारोबार को बंद करने की घोषणा की है। देश में कंपनी की सर्विसेज पर पाबंदी जारी रहने की बात सामने आने के बाद ByteDance की ओर से यह ऐलान किया गया है। Bytedance के पास Tiktok और Helo Apps का स्वामित्व है। Tiktok के वैश्विक कारोबार की अंतरिम प्रमुख वेनिसा पापस और ग्लोबल बिजनेस सॉल्यूशन्स के वाइस प्रेसिडेंट ब्लेक चांडली ने कंपनी के कर्मचारियों को भेजे अपने संयुक्त पत्र में  कहा है कि कंपनी अपने टीम का आकार कम कर रही है और इससे भारत के सभी कर्मचारियों पर असर देखने को मिलेगा।

कंपनी के शीर्ष अधिकारियों ने भारत में वापसी को लेकर अनिश्चितता जाहिर की है लेकिन इस बात की उम्मीद जतायी है कि आने वाले समय में ऐसा देखने को मिल सकता है।

Bytedance के एक सूत्र ने बताया कि कंपनी ने बुधवार को एक टाउनहॉल का आयोजन किया, जहां कंपनी के भारतीय कारोबार को बंद किए जाने की घोषणा हुई।

Tiktok के प्रवक्ता ने संपर्क किए जाने पर कहा कि कंपनी ने भारत सरकार के 29 जून, 2020 के आदेश के अनुपालन के लिए काफी तेजी से काम किया है और अपने ऐप को भारतीय नियमों के अनुरूप बनाने के लिए लगातार काम कर रही है।

प्रवक्ता ने कहा कि यह निराशाजनक है कि पिछले सात माह में प्रयासों के बावजूद हमें इस बारे में स्पष्ट दिशा-निर्देश नहीं मिले हैं कि हमारे Apps को कैसे और कब प्रतिबंधमुक्त किया जाएगा। यह बेहद खेदजनक है कि भारत में करीब छह माह तक 2,000 से अधिक कर्मचारियों को सपोर्ट करने के बाद हमारे पास टीम घटाने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है।

उन्होंने कहा कि, ”हम इस बात को लेकर आशान्वित हैं कि हमें TikTok को दोबारा लांच करने का मौका और करोड़ों यूजर्स, आर्टिस्ट्स, स्टोरी टेलर्स, एजुकेटर्स और परफॉर्मर्स का सपोर्ट मिलेगा।”

भारत सरकार ने जून, 2020 में Tiktok और Helo सहित 59 ऐप्स को प्रतिबंधित कर दिया था। हाल में इन कंपनियों को जानकारी दी गई है कि उनपर लगाए गए प्रतिबंध जारी रहेंगे।