मुस्तफिजुर बोले- IPL में कोरोना का केस मिलने पर 5-6 दिन एक कमरे में बंद कर दिया गया था, बायो बबल बेहद थकाऊ

बांग्लादेश के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान ने बताया है कि क्रिकेटरों को बायो-बबल में रहना कितना मुश्किल होता है। उन्होंने आइसोलेशन में रहने को बेहद थकाऊ बताया और कहा कि यह दिन पर दिन बदतर होता जा रहा है। पिछले हफ्ते इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) 2021 के स्थगित होने के बाद बांग्लादेश लौटने के बाद बाएं हाथ के तेज गेंदबाज वर्तमान में एक क्वारंटाइन में रह रहे हैं।

क्रिकबज से बात करते हुए राजस्थान रॉयल्स के तेज गेंदबाज ने कहा कि बहुत दिनों तक एक कमरे में कैद रहना काफी मुश्किल भरा होता है। उन्होंने कहा कि यह क्रिकेटरों के लिए आसान काम नहीं है चाहे वह आइपीएल हो या कोई अन्य अंतरराष्ट्रीय मैच। बायो-बबल में लगातार रहना बहुत थका देने वाला है और दिन-ब-दिन परेशानी बढ़ती जा रही है। आप एक ही दिनचर्या का आनंद कब तक ले सकते हैं? चाहे वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट हो या आइपीएल कोरोना प्रोटोकॉल सभी के लिए मुश्किल है।

कुछ खिलाड़ियों के संक्रमित पाए जाने के बाद आइपीएल  2021 को स्थगित कर दिया गया। इसे लेकर मुस्तफिजुर ने कहा,’इसे लेकर मैं कुछ नहीं कर सकता हूं। मैं भारत में बायो सिक्योर बबल में था और अब मैं यहां क्वारंटाइन हूं। हमने अन्य यात्रियों की तरह यात्रा नहीं की है। एक टीम के एक सदस्य को पॉजिटिव पाए जाने के बाद, हम लगभग पांच से छह दिनों के लिए एक कमरे में बंद थे। हम बाद में उस विमान में आए जो हमारे लिए किराए पर लिया गया था।

लीग के स्थगित होने के बाद पिछले हफ्ते शाकिब अल हसन के साथ मुस्ताफिजुर फ्रेंचाइजियों द्वारा प्रबंधित एक निजी जेट के माध्यम से बांग्लादेश लौट आए। बायें हाथ का तेज गेंदबाज आगे भी बायो बबल में रहना होगा। बांग्लादेश की टीम श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलने वाली है। यह सीरीज 23 मई से शुरू हो रही है और सभी तीन एकदिवसीय मैच शेर-ए-बांग्ला नेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले जाएंगे।