Hisar, Haryana Air Pollution: जींद देश का सबसे प्रदूषित शहर, हिसार की आबोहवा दिल्ली जैसी

हरियाणा की आबोहवा देश में सबसे खराब हो गई है। जींद शहर देश में सबसे प्रदूषण रहा। वहीं हिसार का प्रदूषण लेवल दिल्ली के बराबर रहा। हरियाणा के पांच शहरों में प्रदूषण सूचकांक 400 से ऊपर है। वहीं 12 शहरों में एक्यूआइ 300 से ऊपर है जो कि गंभीर स्थिति को दिखाता है। हरियाणा के पांच शहरों में जींद सबसे ऊपर, इसके बाद हिसार, बल्लभगढ़, गुरुग्राम और पानीपत है। हर साल की तरह इस बार भी जींद, हिसार और गुरुग्राम की गिनती देश में सबसे दूषित शहरों में हो रही है। हवा में मौजूद हानिकारक गैंसें अस्थमा और दमा का कारण बन रही है।

वहीं लोगों के फेफड़े कमजोर होते जा रहे हैं। प्रदूषण के कारण आंखों में जलन के मामले में बढ़ रहे हैं। सबसे खतरनाक मानी जाने वाली ओजोन गैस का स्तर हिसार में 78 फीसद तक पहुंच गया है। प्रदूषण में सबसे अधिक भागीदारी पराली और वाहनों से निकलने वाले प्रदूषण की है। इसके अलावा थर्मल पावर और इंडस्ट्रीज से निकलने वाले धुएं के कारण भी हवा जहरीली हो रही है। हवा में नमी के कारण धुएं के साथ मिलकर स्माग पैदा हो रहा है।

बता दें कि प्रदूषित हवा भारी होती है क्‍योंकि इसमें प्रदूषण के कण मिले होते हैं और यह जब पृथ्‍वी की से आसमान की ओर जाती है और अगर हवा का दबाव ज्‍यादा हो तो प्रदूषित हवा के भारी होने के कारण यह पृथ्‍वी की सतह पर ही फैल जाती है। इससे स्‍माग बन जाता है। जब तक बारिश नहीं होती है तब तक यह प्रदूषण एक ही जगह बना रहता है। इसके कारण ऑक्सिजन लेवल कम हो जाता है। इसके कारण सांस लेने में दिक्‍कत होती है।

देश के सबसे प्रदूषित शहर

गाजियाबाद 455

नोएडा 446

हापुड़ 444

फिरोजाबाद 443

बागपत 440

वृंदावन 435

बुलंदशहर 424

दिल्ली 428

मेरठ 416

आगरा 412

हरियाणा के सबसे प्रदूषित शहर

जींद 463

हिसार 428

बल्लभगढ़ 426

गुरुग्राम 419

पानीपत 405

प्रदेश में प्रदूषण की खराब स्थिति

अंबाला 341

बहादुरगढ़ 383

भिवानी 389

चरखीदादरी 376

फरीदाबाद 372

फतेहाबाद 373

कैथल 367

करनाल 323

कुरुक्षेत्र 355

मानेसर 389

रोहतक 377

 

सोनीपत 349

 

एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) का मानक

 

0-50- अच्छा

 

51-100- संतोषजनक

 

101-200- सामान्य

 

201- 300- खराब ,

 

301- 400- बहुत खराब

 

401- 500- गंभीर