Delhi Schools, Colleges Reopen: दिल्ली में स्कूल-कॉलेज खुलने पर Air Quality Panel ने लिया बड़ा फैसला, जानें अब कब खुलेंगे शैक्षणिक संस्थान

दिल्ली में प्रदूषण की वजह से स्थिति काफी खराब है। इसकी वजह से सरकार ने स्कूल-कॉलेज समेत शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के निर्देश दिए थे। वहीं अब ताजा अपडेट आ रही है कि कमीशन फॉर एयर क्वालिटी मैनेजमेंट (Commission for Air Quality Management, CAQM) ने शैक्षणिक संस्थानों को खोलने के संबंध में एक बड़ा फैसला लिया है। इसके मुताबिक, CAQM ने कहा है कि दिल्ली और एनसीआर के अन्य शहरों में सभी निजी और सरकारी स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थान अगले नोटिस तक बंद रहने चाहिए। CAQM ने मीडिया रिपोर्ट में कहा कि यह राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए आयोग द्वारा सुझाए गए कई उपायों में से एक है।

मीडिया रिपोर्ट में सीएक्यूएम ने कहा, “एनसीआर में सभी निजी और सार्वजनिक स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे, इस दौरान केवल ऑनलाइन शिक्षा की अनुमति देने तक बंद रहेंगे।”

बता दें कि इसके पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 13 नवंबर को घोषणा की थी कि सोमवार से खुलने वाले स्कूल-कॉलेज एक सप्ताह के लिए स्कूल बंद रहेंगे। इसके ठीक एक दिन बाद, 14 नवंबर को, हरियाणा सरकार ने भी सोमवार से चार शहरों- गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत और Jhijar में स्कूलों को बंद करने की घोषणा की थी। वहीं हरियाणा आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा था कि यह नए दिशा-निर्देश 17 नवंबर तक लागू रहेंगे। हालांकि सीएक्यूएम के आदेश के बाद दिल्ली-एनसीआर में अगले आदेश तक स्कूल बंद रहेंगे।

गौरतलब है कि CAQM का यह आदेश दिल्ली सरकार और केंद्र द्वारा वायु गुणवत्ता संकट के लिए आपातकालीन योजना की कमी को लेकर भारत के सर्वोच्च न्यायालय के सवालों के बीच आया है। वहीं इसके पहले दिल्ली सरकार ने इस सप्ताह की शुरुआत में शीर्ष अदालत के आदेश पर एक आपात बैठक में वीकेंड लॉकडाउन और एक सप्ताह के लिए घर से काम करने यानी कि वर्क फ्रॉम होम का सुझाव दिया था। सरकार ने दिल्ली में हवा की स्थिति को सुधारने के लिए कई तरह के उपाय अपनाने के क्रम में दिल्ली के 300 किमी के दायरे में आने वाले 11 तापीय बिजली संयंत्रों में से छह को 30 नवंबर तक बंद करने का आदेश दिया गया है। इसके साथ ही दिल्‍ली में ट्रकों के प्रवेश पर भी 21 नवंबर तक रोक लगा दी गई है।