Nokia ने भारत में नई पीढ़ी के 5G उपकरणों का उत्पादन किया शुरू, विदेशों में हो रहे निर्यात

दूरसंचार से जुड़े उपकरणों का निर्माण करने वाली कंपनी नोकिया (Nokia) ने मंगलवार को कहा कि उसने भारत में 5G उपकरणों का उत्पादन शुरू कर दिया है और अगली पीढ़ी की तकनीक के विकास में एडवांस चरण में पहुंच चुके देशों को ये भेजे जा रहे हैं। भारत में 5जी सेवाओं का शुरू होना स्पेक्ट्रम नीलामी पर निर्भर है, क्योंकि टेलिकॉम ऑपरेटर्स को देश में 5जी सेवाएं शुरू करने के लिए उपयुक्त वायरलेस आवृत्तियों की आवश्यकता होती है।

नोकिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और भारतीय बाजार के प्रमुख संजय मलिक ने एक बयान में कहा, ‘भारत में पहली बार 5G NR का निर्माण करने से लेकर mMIMO का निर्माण करने तक, यह सर्वश्रेष्ठ श्रेणी के उपकरणों का उत्पादन करने के लिए हमारी अभिनव विनिर्माण क्षमताओं और भारत के कौशल और प्रतिभा में हमारे विश्वास को प्रदर्शित करता है। यह हमें 5 जी लॉन्च की तैयारी कर रहे भारतीय ऑपरेटर्स का सहयोग करने में सक्षम बनाएगा’

कंपनी ने बताया कि भारत में 5 जी न्यू रेडियो का निर्माण करने वाला नोकिया पहला था, और अब यह मैसिव मल्टीपल इनपुट मल्टीपल आउटपुट (mMIMO) समाधान का उत्पादन कर रहा है। नोकिया का चेन्नई कारखाना नवीनतम 5G मैसिव MIMO उपकरण का निर्माण कर रहा है, जो उन देशों को भेजा जा रहा है, जो 5G तकनीक के उन्नत चरणों में हैं।

बयान में कहा गया, ‘साल 2008 से इस साइट ने 50 लाख दूरसंचार नेटवर्क उपकरण यूनिट्स का निर्माण किया है, जिसमें से 50 फीसद से अधिक 100 से अधिक देशों को निर्यात किया गया है।’ नोकिया ने दावा किया है कि उसने साल 2008 से इस सुविधा को विकसित करने में 600 करोड़ रुपये से अधिक निवेश किये हैं।

मलिक ने कहा, ‘हमारा चेन्नई कारखाना भारत की विनिर्माण क्षमताओं के एक मानक के रूप में उभरा है, जो भारत और दुनिया के बाकी हिस्सों में दूरसंचार प्रौद्योगिकी की एक पूरी श्रृंखला ला रहा है।’