गुरुग्राम में ओवरलोड डंपरों को देख नाराज हुए परिवहन मंत्री, अधिकारी को बुलाकर करवाया चालान

परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने गुरुग्राम से फरीदाबाद लौटते हुए ग्वाल पहाड़ी के पास ओवरलोड डंपरों को जब्त करवाया। उन्होंने मौके पर जिला परिवहन अधिकारी धारणा यादव को बुलाकर सभी गाड़ियों को जब्त करवाकर उनके चालान करवाए। परिवहन मंत्री गुरुग्राम के लोक निर्माण विश्राम गृह में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में भाग लेने के लिए पहुंचे थे।

गुरुग्राम से फरीदाबाद लौटते समय जब वे ग्वालपहाड़ी के पास पहुंचे तो उन्होंने वहां ओवरलोडिड डंफरों को देखा जिसे लेकर वे नाराज दिखाई दिए। उन्होंने जिला परिवहन अधिकारी को मौके पर तुरंत पहुंचने को कहा।

मंत्री ने अपने सामने करवाया चालान

संबंधित अधिकारी जब मौके पर पहुंचे तो परिवहन मंत्री ने ओवरलोडिंग वाहनों के चालान का स्टेटस जाना और ओवरलोडिंग वाहनों का अधिक से अधिक चालान करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि ओवरलोडिंग वाहनों के चालान में लापरवाही कतई बर्दाश्त नही की जाएगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रदेश की जनता को भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने के लिए वचनबद्ध है, ऐसे में जरूरी है कि अधिकारी भी इसी दिशा में काम करते हुए मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार मुक्त शासन से सपने को साकार करने में अपना योगदान दें। अधिकारी ओवरलोडिंग करने वाले वाहनों का चालान करें और किसी प्रकार की ढिलाई ना बरतें। उन्होंने डीएलएफ फेज-1 के प्रभारी को 11 ओवरलोड डंपर हैंडओवर करवाकर आगे की कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

डेढ़ महीने में लगभग 2 करोड़ का किया गया चालान

मौके पर पहुंची क्षेत्रीय यातायात प्राधिकरण की सचिव धारणा यादव ने बताया कि परिवहन मंत्री ओवरलोडिंग वाहनों का चालान करने के कार्य में काफी रूचि ले रहे हैं। क्षेत्रीय यातायात प्राधिकरण द्वारा पिछले एक-डेढ़ महीने में लगभग 2 करोड़ रुपये की चालान गुरुग्राम में किए हैं जो पिछले दो साल में सबसे ज्यादा है। ओवरलोडिंग वाहनों का निरंतर चालान किए जा रहे हैं। इस मुहिम को आगे बढ़ाया जा रहा है।