कांग्रेस को पांच राज्यों में मिली करारी हार के बाद जी-23 समूह हुआ एक्टिव, पार्टी के भविष्य को लेकर जताई चिंता

उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे 10 मार्च को घोषित हो गए हैं। विधानसभा चुनाव में भाजपा ने चार राज्यों में जीत हासिल की है। वहीं, आम आदमी पार्टी ने पंजाब में जीत दर्ज की है। हालांकि, इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पांचों राज्यों में करारी हार का सामना करना पड़ा है। कांग्रेस की हार को लेकर पार्टी में ही आवाजें उठने लगी है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी के जी-23 समूह के नेताओं की गुलाम नबी आजाद के आवास पर बैठक हुई। इस बैठक में जी-23 समूह के नेताओं ने पांच राज्यों में कांग्रेस को मिली करारी हार पर चर्चा की। साथ ही उन्होंने पार्टी के भविष्य को लेकर अपनी चिंता भी जताई।

जी-23 समूह हुआ एक्टिव

दरअसल, पांच राज्यों में हाल ही में संपन्न चुनावों में कांग्रेस पार्टी की अपमानजनक हार के बाद जी-23 समूह के नेताओं की बैठक हुई है। सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान कुछ नेताओं ने सुझाव दिया कि उन्हें आगामी कांग्रेस कार्यसमिति को छोड़ देना चाहिए, क्योंकि बैठक में मुख्यमंत्री, युवा कांग्रेस के नेता और फ्रंटल संगठनों के अध्यक्ष केवल गांधी परिवार की प्रशंसा करते हैं। लेकिन गंभीर मुद्दों पर चर्चा नहीं करते हैं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में कांग्रेस पार्टी को करारी हार मिली है। पंजाब में तो कांग्रेस को सत्ता गंवानी पड़ी है। वहीं, उत्तराखंड और गोवा में कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल बनकर रह गया है। जबकि, यूपी में कांग्रेस को सिर्फ दो सीटों से ही संतोष करना पड़ा है और मणिपुर में कांग्रेस पार्टी को पांच सीटें मिली है।