स्पोर्ट्स स्टोर लॉन्च करने की तैयारी में रिलायंस रिटेल:बड़े शहरों में किराए पर जगह लेगी कंपनी, फ्रांसीसी स्पोर्ट्स रिटेलर डेकाथलॉन को ​​​​​​​देगी टक्कर

मुकेश अंबानी का रिलायंस रिटेल एक स्पोर्ट्स स्टोर लॉन्च करने की योजना बना रहा है। इसके जरिए कंपनी कोविड-19 के बाद तेजी से बढ़ते एथलीजर मार्केट में टार्गेट करेगी। इकोनॉमिक टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। इसके जरिए कंपनी फ्रांसीसी स्पोर्ट्स रिटेलर डेकाथलॉन को टक्कर देगी।

रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी नए स्टोर के लिए बड़े शहरों के मॉल और रोड के किनारे 8 हजार से 10 हजार स्क्वायर फीट की जगह किराए पर लेने के लिए बातचीत कर रही है। हालांकि, कंपनी की ओर से ऑफिशियल तौर पर इसके बारे में कोई भी जानकारी नहीं दी है।

वित्त वर्ष 23 में डेकाथलॉन को ₹3,955 करोड़ का रेवेन्यू
ET ने एक मॉल ऑपरेटर के हवाले से बताया कि रिलायंस ऐसी जगह की तलाश कर रही है जिसे मॉल के बाहर तक बढ़ाया जा सके, जहां एक खेल का मैदान भी हो।

रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज से मिली एक्सचेंज फाइलिंग के अनुसार, वित्त वर्ष 23 में डेकाथलॉन को ₹3,955 करोड़ का रेवेन्यू हुआ है, जो वित्त वर्ष में ₹2,936 करोड़ और वित्त वर्ष 21 में ₹2,079 करोड़ था।

दो सालों में प्रमुख स्पोर्ट्स ब्रांड्स की बिक्री में आया उछाल
फिटनेस के बारे में बढ़ती जागरूकता और एथलेटिक वियर की बढ़ती मांग के कारण पिछले दो सालों में प्रमुख स्पोर्ट्स ब्रांड्स की बिक्री में उछाल आया है।

रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज से मिली एक्सचेंज फाइलिंग के अनुसार, प्यूमा, डेकाथलॉन, एडिडास, स्केचर्स और एसिक्स जैसे ब्रांड्स ने वित्त वर्ष 21 से लेकर अब तक साल दर साल 35%-60% की ग्रोथ हासिल की है। वित्त वर्ष 23 में इन कंपनियों का संयुक्त रेवेन्यू ₹11,617 करोड़ रहा।

स्पोर्ट्सवियर कंपनियों के लिए तेजी से बढ़ते मार्केट में से एक है भारत
1.4 बिलियन की आबादी के साथ भारत स्पोर्ट्सवियर और फुटवियर कंपनियों के लिए तेजी से बढ़ते मार्केट और बड़े इंटरनेशनल मार्केट में से एक है। ज्यादातर ग्लोबल ब्रांड भारत में दो दशकों से से ज्यादा समय से मौजूद हैं, जो क्रिकेट और अन्य स्पोर्ट्स एक्टिविटीज के साथ पार्टनरशिप करके अपने प्रोडक्ट को बेच रहे हैं।

रिलायंस ग्रुप की रिटेल इकाई है रिलायंस रिटेल
रिलायंस रिटेल देश की निजी सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिटेल इकाई है। रिलायंस रिटेल ने वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही में 1.56 करोड़ वर्ग फीट के ग्रॉस एरिया एडिशन के साथ 1,840 नए स्टोर खोले हैं।

कुल स्टोर की संख्या बढ़कर 18,836 हो गई है, जो 7.91 करोड़ वर्ग फीड के क्षेत्र को कवर करती है। रिलायंस रिटेल की आय 10.7% बढ़कर ₹76,683 करोड़ हो गई, जो एक साल पहले की अवधि में ₹69,288 करोड़ थी। वहीं पिछली तिमाही में ये 83,040 थी। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स और फैशन एंड लाइफ स्टाइल में ग्रोथ के कारण ऐसा हुआ है।