मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा- प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने की ओछी राजनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक का दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा लाइव टेलीकास्ट (सीधा प्रसारण) करने के मामले पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कड़ी आपत्ति जताई है। उन्होंने इसे ओछी राजनीति कहते हुए प्रोटोकॉल का उल्लंघन बताया है। एक के बाद किए कई ट्वीट में शिवराज ने केजरीवाल को जमकर लताड़ा।

शिवराज ने कहा- केजरीवाल ने पीएम संग बैठक का लाइव टेलीकास्ट करना निंदनीय कृत्य

शिवराज ने ट्वीट में कहा कि आज (शुक्रवार) प्रधानमंत्री जी के साथ 11 राज्यों के मुख्यमंत्रियों की हाईलेवल इंटरनल (उच्चस्तरीय आंतरिक) बैठक थी, जिसमें कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए राज्यों से सुझाव लिए जाने थे एवं रणनीति तैयार करने के लिए चर्चा होनी थी। इस हाईलेवल इंटरनल बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने ओछी राजनीति करते हुए बैठक का लाइव टेलीकास्ट कर दिया और केंद्र सहित अन्य राज्यों पर आरोप लगाने शुरू कर दिए, जो बेहद अनुचित है और प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। यह बेहद निंदनीय कृत्य है।

शिवराज ने कहा- राजनीतिक मतभिन्नता होते हुए भी गहलोत, कैप्टन ने शालीनता से रखी बात

एक अन्य ट्वीट में शिवराज ने कहा कि केजरीवाल जी आपके इस कृत्य से पता चलता है कि आप राष्ट्रीय मुद्दों के प्रति कितने गंभीर हैं। एक और ट्वीट में शिवराज ने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आदि ने राजनीतिक मतभिन्नता होते हुए भी शालीनता से अपनी बात रखी। मैं भी 14 साल से मुख्यमंत्री हूं। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के साथ भी बैठक में शामिल हुआ, लेकिन वैचारिक मतभेद होने के बाद भी सदैव उनका सम्मान किया।

शिवराज ने कहा- कोविड संकट महाविकट, इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए

सूत्रों ने बताया कि केजरीवाल ने जब लाइव टेलीकास्ट किया, तब भी शिवराज ने आपत्ति जताई थी। शिवराज ने बैठक में कहा कि कोविड का संकट महाविकट है। इस मुद्दे पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। वैचारिक मतभेद हो सकते हैं, लेकिन जिस बैठक में हम प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कोविड से लड़ने की योजना बना रहे हैं, उसमें राजनीतिक बात करें और उसे लाइव टेलीकास्ट करें और कहें कि कुछ हो गया तो हम जवाबदार नहीं है, यह उचित नहीं। हम कैसे जवाबदारी से बच सकते हैं?