धनतेरस पर 1,438 जूनियर इंजीनियर्स को योगी आदित्यनाथ सरकार का तोहफा, मिले नियुक्ति व स्थापना पत्र

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गुरुवार को धनतेरस के पर्व पर 1,438 युवाओं को बड़ा तोहफा दिया। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से चयनित जन शक्ति विभाग के 1,438 जूनियर इंजीनियर्स को नियुक्ति पत्र के साथ ही उनको स्थापना पत्र भी प्रदान किया गया। इनमें से कुछ से सीएम योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वार्ता भी की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को अपने सरकारी आवास से जल शक्ति विभाग के सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के नवचयनित जूनियर इंजीनियरों को नियुक्ति एवं पद स्थापना पत्र वितरित किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न जिलों के सफल अभ्यर्थियों से संवाद भी किया। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से चयनित जूनियर इंजीनियर (सिविल) परीक्षा के माध्यम से सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के लिए 1,438 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर वाराणसी, कानपुर, मेरठ तथा कुछ अन्य जिलों के सफल अभ्यर्थियों से वार्ता के दौरान उनके अनुभव की जानकारी लेने के साथ उनसे परीक्षा के किसी भी मोड़ पर किसी भी प्रकार की जानकारी भी मांगी। अभ्यर्थियों को स्थापना पत्र मिलने के बाद उन्होंने उन सभी को इस काम को बड़ी चुनौती के रूप में लेने का अनुरोध भी किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमको भरोसा है कि आप सब की शक्ति से प्रदेश का जलशक्ति विभाग लगातार आगे बढ़ता जाएगा।

राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं को बड़े पैमाने पर सरकारी नौकरियां उपलब्ध करा रही है। इसी क्रम में गुरुवार को जूनियर इंजीनियर्स को योगी आदित्यनाथ सरकार ने नियुक्ति तथा स्थापना पत्र प्रदान किया गया। सरकार की तरफ से अब तक तीन लाख से अधिक युवाओं को नौकरियां दी गयी हैं। सरकार का दावा है कि सभी भॢतयां निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से की गयी हैं। आने वाले समय में मिशन रोजगार के तहत तीन लाख और युवाओं को नौकरियां देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

अक्टूबर में परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में चयनित 31,277 सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र वितरित किये गये थे। इसके अलावा, राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के लिए चयनित 3,317 सहायक अध्यापकों को भी नियुक्ति पत्र दिये गये थे।