Year Ender 2020: HDFC, ICICI Bank और SBI टॉप 10 बैंकों में शुमार; वॉलेट में Google Pay, PhonePe ने मारी बाजी

HDFC, ICICI Bank, भारतीय स्टेट बैंक (SBI), और पंजाब नेशनल बैंक (PNB) तथा एचएसबीसी (HSBC) इस साल यानी 2020 में शीर्ष 10 बैंकों में शुमार हैं। दूसरी ओर, वॉलेट की बात की जाए तो इस मामले में गूगल पे (Google Pay) और PhonePe ने ग्राहकों के बीच बाजी मारी है। एक हालिया रिपोर्ट में यह कहा गया है। Wizikey की बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज और इंश्योरेंस (बीएफएसआई) मूवर्स एंड शेकर्स-2020 रिपोर्ट में देश के शीर्ष 100 बैंकों तथा उभरते वॉलेट और यूपीआई, नियोबैंक, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी), लघु वित्त बैंकों और भुगतान बैंकों जैसे बीएफएसआई मॉडलों का उल्लेख किया गया है।

विजिकी की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साल कोरोना महामारी की वजह से इंश्योरेंस सेक्टर में भी व्यापक बदलाव देखने को मिले हैं। इससे पहले इस सेक्टर की गतिविधियों में काफी तेजी नहीं रहती थी लेकिन माहामारी से जुड़े असर के चलते इस सेक्टर की लोकप्रियता में इजाफा हुआ है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक एचडीएफसी, आईसीआईसीआई, एसबीआई, पीएनबी, एचएसबीसी बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, Deutsche Bank और आईडीबीआई बैंक 2020 के शीर्ष 10 बैंक रहे हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साल UPI और वॉलेट की मांग में भी काफी अधिक वृद्धि देखने को मिली। विजिकी की रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन के समय में Google Pay पहले नंबर का मूवर एंड शेकर रहा है। इस मामले में दूसरा स्थान PhonePe को मिला है। व्हॉट्सएप ने इस साल अपनी पेमेंट सर्विसेज शुरू कीं, लेकिन यह अभी अन्य कंपनियों से पीछे रही है। इस साल डिजिटाइजेशन से जुड़ी पहलों के कारण नियो बैंकिंग काफी चर्चा में रही। इस कैटेगरी में योनो (SBI Yono) नंबर एक पर रहा। इसके बाद Niyo और कोटक 811 क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।

इस रिपोर्ट के मुताबिक गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFCs) की भूमिका इस साल काफी अहम रही और यह सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्योगों (MSMEs) के लिए पूंजी प्राप्त करने का मुख्य स्रोत रहा।