दिल्ली में एक नाबालिग लड़के को जबरन बना दिया ट्रांसजेंडर

गीता कॉलोनी इलाके में एक नाबालिग का जबरन किन्नर बनाने व मतांतरण कराने का मामला सामने आया है। आरोप है कि किन्नरों ने उसे बंधक बनाकर रखा और जमकर मारा पीटा। उसके साथ कई बार कुकर्म भी किया। मौका मिलते ही वह उनके चंगुल से छूटकर अपने घर पहुंचा। पुलिस ने पाक्सो सहित कई धाराओं में केस दर्ज कर एक नाबालिग सहित मुख्य आरोपित रिहान को दबोच लिया है। पुलिस इनके बाकी साथियों की तलाश कर रही है।

दिल्ली पुलिस के अनुसार, नाबालिग अपने परिवार के साथ गीता कॉलोनी थाना क्षेत्र में रहता है और हिंदू परिवार से है। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि वर्ष 2017 में उसकी मुलाकात रिहान से हुई थी। जान पहचान अच्छी होने पर रिहान उसे अपने साथ डांस कराने के लिए ले जाने लगा। डांस करने पर उसको रुपये भी मिलते थे। उन्हीं दिनों रिहान ने पीड़ित की मुलाकात साहिल उर्फ शैली, सनाया खान और सद्दाम खान से करवाई।

आरोपितों ने साल 2018 में जबरन ऑपरेशन करवाकर किन्नर बनाया और मतांतरण भी करवा दिया। आरोप है कि पीड़ित ने जब पुलिस से शिकायत करने की बात कही तो उसे बंधक बना लिया और उसे काफी पीटा गया। लाकडाउन के दौरान पीड़ित उनके चंगुल से फरार हो गया और सीधे अपने घर पहुंचा। पीड़ित ने पूरी वारदात अपने स्वजन को बताई। स्वजन ने बदनामी के डर से पुलिस में शिकायत करने के बजाय किशोर को उसके दोस्त के घर पर रहने के लिए भेज दिया।

आरोप है कि गत 20 दिसंबर को चारों आरोपित अपने कई साथियों के साथ उसके दोस्त के घर पर पहुंचे। वहां से नकदी व गहने लूट लिए। आरोप है कि उस दिन पीड़ित के साथ कई बार कुकर्म किया गया। किसी तरह वह वहां से भी भागा। गत 24 दिसंबर को पुलिस ने नाबालिग की शिकायत पर केस दर्ज किया।