अब ट्रेन से करें दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का दीदार

गुजरात में स्थित दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का दीदार करना अब और भी आसान हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए स्टेच्यू ऑफ यूनिटी, केवड़िया को देश के विभिन्न हिस्सों से जोड़ने वाली 8 ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने गुजरात में विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि छोटा-सा खूबसूरत केवड़िया इस बात का बेहतरीन उदाहरण है कि कैसे प्लान्ड तरीके से पर्यावरण की रक्षा करते हुए इकोनॉमी और इकोलॉजी दोनों का तेजी से विकास किया जा सकता है। बढ़ते हुए टूरिज्म की वजह से केवड़िया के आदिवासी युवाओं को रोजगार मिल रहा है। यहां के लोगों के जीवन में तेजी से आधुनिक सुविधाएं पहुंच रही हैं।

ये है नई ट्रेनें

– महामना एक्सप्रेस केवड़िया से वाराणसी तक वीकली चलेगी।

– दादर-केवड़िया एक्सप्रेस दादर से केवड़िया तक प्रतिदिन चलेगी।

– जन शताब्दी एक्सप्रेस अहमदाबाद से केवड़िया तक प्रतिदिन चलेगी।

– निजामुद्दीन-केवड़िया संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से हजरत निजामुद्दीन एक हफ्ते में दो दिन चलेगी।

– केवड़िया-रीवा एक्सप्रेस केवड़िया से रीवा तक वीकली चलेगी।

– चेन्नई-केवड़िया एक्सप्रेस चेन्नई से केवड़िया तक वीकली चलेगी।

– एमईएमयू ट्रेन प्रताप नगर से केवड़िया तक वीकली। चलेगी।

– एमईएमयू ट्रेन केवड़िया से प्रतापनगर तक प्रतिदिन चलेगी।

विस्टाडोम कोच में सफर

पीएम मोदी ने अहमदाबाद- केवड़िया के बीच चलने वाली जन शताब्दी एक्सप्रेस की तस्वीरें भी ट्विटर पर शेयर की हैं।

उन्होंने बताया कि केवड़िया स्टेशन भारत का पहला ग्रीन बिल्डिंग सर्टिफिकेशन है।

विस्टाडोम कोच में बाहर देखने की ज्यादा सुविधा होती है। पारदर्शी छत से आसमान को भी देखा जा सकता है।

50 लाख लोग कर चुके हैं विजिट

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए अब स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से भी ज्यादा पर्यटक पहुंचने लगे हैं।

अपने लोकार्पण के बाद करीब-करीब 50 लाख लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने आ चुके हैं।

पीएम ने कहा कि केवड़िया, गुजरात का एक ब्लॉक नहीं रहा, विश्व के सबसे बड़े पर्यटक क्षेत्र के रूप में उभर रहा है।