COVID-19 & Chest Pain: क्या कोविड-19 की वजह से सीने में दर्द हो सकता है?

Covid-19 & Chest Pain: कोरोना वायरस संक्रमण के कई संकेत और लक्षण हैं, जो रिकवरी के बाद भी कई हफ्तों और यहां तक कि महीनों तक चलते हैं। कई लोगों को कोविड का हल्के या मध्यम संक्रमण होता है, वहीं कुछ को गंभीर संक्रमण की वजह से सांस लेने में तकलीफ और सीने में दर्द जैसी तकलीफे झेलनी पड़ती हैं। हालांकि, कोरोना के कई लक्षण दूसरी तरह की बीमारियों से भी मेल खाते हैं। उदाहरण के तौर पर सीने में दर्द कोविड-19 का आम लक्षण है, लेकिन यह बेचैनी और दूसरी मानसिक बीमारियों की वजह से भी हो सकता है। लेकिन यह कैसे पता लगाएं कि लक्षण कोविड के हैं या फिर दूसरी बीमारियों के?

सीने में दर्द या कसाव की वजह क्या होती है?

सीने में दर्द होने पर छाती के अंदर और आसपास बेचैनी की भावना महसूस होती है। यह या तो दिल में सूजन की वजह से होती है या फिर ग़ैर-हृदय से संबंधित स्थिति के कारण शुरू हो सकता है। कार्डियेक चेस्ट पेन आमतौर पर हृदय की मांसपेशियों में रक्त और ऑक्सीजन की कमी के कारण होता है।

इसे एनजाइना के रूप में भी जाना जाता है। इसमें आप अपनी छाती में बहुत अधिक दबाव का अनुभव कर सकते हैं और यह बेचैनी आपके कंधों, बाहों, गर्दन और पीठ तक फैल सकती है। अगर सीने में दर्द दिल की बीमारी की वजह से नहीं है, तो इसके पीछे मांसपेशियों या हड्डी में संक्रमण भी एक कारण हो सकता है।

क्या सीने में दर्द कोविड-19 का संकेत हो सकता है?

हालांकि, सीने में दर्द कोविड-19 का एक असामान्य लक्षण है, लेकिन यह गंभीर संक्रमण वाले रोगियों में देखा जा सकता है। SARs-COV-2 वायरस में न सिर्फ श्वसन प्रणाली, बल्कि अन्य अंगों को गंभीर नुकसान पहुंचाने की क्षमता होती है। इससे शरीर के कई हिस्सों में सूजन आ सकती है, जिसकी वजह से मांसपेशियों में कसाव महसूस हो सकता है और सीने की मांसपेशियों में दर्द हो सकता है, जिससे सांस लेने में मुश्किल होती है।

वहीं, कोविड के गंभीर रोगियों में, निमोनिया भी हो जाता है, जिसकी वजह से आगे चलकर फेफड़ों की सूजन बढ़ जाती है। ऐसे में सीने में दर्द एक सामान्य लक्षण बन जाता है।

बेचैनी से भी हो सकता है सीने में दर्द

चिंता या बेचैनी एक ऐसी स्थिति है, जिसमें एक व्यक्ति डर और आशंका की भावना से घिर जाता है। बेचैनी अचानक ही शुरू हो जाती है, और इससे अलग-अलग लक्षण नज़र आते हैं, जिनमें से एक सीने में दर्द भी है। लेकिन बेचैनी से होने वाला सीने में दर्द अपने आप बी कुछ देर में ठीक हो जाता है और शरीर को नुकसान भी नहीं पहुंचाता है। इन लक्षणों पर दे ध्यान:

सांस फूलना

– पसीना आना

– चक्कर आना

– दिल की धड़कनों का तेज़ होना

– कंपकंपाहट होना

कोविड-19 और बेचैनी में हो रहे सीने में दर्द में फर्क को कैसे जानें?

कोविड-19 की वजह से होने वाला सीने में दर्द तब तक रह सकता है, जब तक आप पूरी तरह रिकवर न हो जाएं। वहीं बेचैनी या चिंता की वजह से होने वाला सीने में दर्द कुछ देर में ही ठीक हो जाता है। चिंता से संबंधित सीने में दर्द तेज़ और चुबने वाला हो सकता है, जबकि कोविड रोगियों में यह जकड़न को ट्रिगर कर सकता है, जिससे छाती में दबाव महसूस हो सकता है।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।